Wednesday, November 16, 2016

हमारी सरकार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विमुद्रीकरण के साहसिक फैसले से भ्रष्टाचार और जमाखोरी पर कुछ दिनों के लिए लगाम तो लगेगी पर जल्दी ही चालाक लोग नयी नयी तरकीब इजाद कर फिर कला धन पैदा करना शुरू कर देंगे.

मोदी जी की असली चुनौती है लोगों का सरकार में विश्वास जगाना. कोई भी व्यक्ति जब जाने अनजाने में टेक्स चोरी की राह पर चल पड़ता है तो उसके मूल में यह भावना होती है कि अगर सरकार को टेक्स दे भी दिया तो वह उसका इस्तेमाल देश की भलाई से ज्यादा अपने अफसर/मंत्री और उनके चहेतों का पेट भरने के लिए करेगी.

इस फैसले से बैंकों के या इलेक्ट्रोनिक माध्यमों के द्वारा खरीद-फरोख्त का चलन बढेगा जिससे हर सौदे के निशान मिटाए नहीं जा सकेंगे और सरकार को टेक्स वसूलने में आसानी होगी. अगर सरकार मजबूती से डटी रही और इस फैसले को सही अंजाम तक पहुंचा दिया तो लोगों की धंदा करने की आदतें बदल जायेंगी. इसके बाद जहाँ एक तरफ अनेकों छोटे और मंझले व्यापारी टेक्स नेट में आएंगे वहीं करोड़ो आमजन जो सरकारी रिकार्ड में गरीबी रेखा से नीचे बता कर अनेकों सुविधों का लाभ उठा रहे हैं शायद अधिकतर से वह अधिकार छीन जाय और उन्हें कुछ टेक्स भी देना पड़ जाय.

क्या मोदी इस काम को अंजाम दे पाएंगे और लोगों को सरकार पर विशवास करना सिखा पाएंगे ?


शायद वक्त ही इसका जबाब दे पाए !!

No comments:

Post a Comment